जयतु संस्कृतम्

Dhyan Mntrah PDF . ध्यान मन्त्रा:

Dhyan Mntrah  PDF .
 ध्यान मन्त्रा: 


all in one 
 
  1. Dhyanam ध्यानम् 
  2. Swasti Vachanam स्वस्ति वचनम्
  3. Nitya Shloka नित्य श्लोक:
  4. Parabrahma Pratah Smaranam परब्रह्म प्रातः स्मरणम् 
  5. Saraswati Prarthana सरस्वती प्रार्थना 
  6. Vigneshwara Prarthana  विघ्नेश्वर प्रार्थना 
ध्यान मन्त्रा: 
Category      Mntrah 
File,s  Source
File Size137.KB
All Pages      13
LanguageSanskrit

संस्कृत भाषा में धर्म शास्त्र कई हैं, जैसे कि मनुस्मृति, याज्ञवल्क्य स्मृति, वैष्णव धर्मशास्त्र, शिव धर्मशास्त्र, बौद्ध धर्मशास्त्र आदि। संस्कृत साहित्य में व्याकरण भी एक बहुत महत्वपूर्ण विषय है। पाणिनि का अष्टाध्यायी संस्कृत व्याकरण का मूल ग्रंथ है। संस्कृत न्याय शास्त्र भी महत्वपूर्ण है, जो कि तर्कशास्त्र के रूप में जाना जाता है। न्याय सूत्रों, न्यायवैशेषिक और मीमांसा शास्त्र भी संस्कृत साहित्य में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। इसके अतिरिक्त, आधुनिक संस्कृत साहित्य में अनेक उपन्यास, कहानियां, कविताएं, नाटक, विज्ञान, इतिहास, धर्म, समाज और संस्कृति से संबंधित अन्य विषयों पर भी लेखन उपलब्ध है। अधिकतम शब्द सीमा के लिए, यह बताया जा सकता है कि संस्कृत साहित्य में अनेक विषयों पर लगभग २०,००० से भी अधिक पुस्तकें उपलब्ध होती हैं।

Previous Post
Next Post